झारखंड के छात्रों को साइबर सुरक्षा को ले जागरूक कर रहा साइबर पीस फाउंडेशन

झारखंड के छात्रों को साइबर सुरक्षा को ले जागरूक कर रहा साइबर पीस फाउंडेशन

झारखंड के छात्रों को साइबर सुरक्षा को ले जागरूक कर रहा साइबर पीस फाउंडेशन

साइबर पीस फाउंडेशन जमशेदपुर के सीबीएसई तथा सीआइएससीई स्कूलों में साइबर पीस क्लब की स्थापना कर छात्रों को साइबर सुरक्षा को लेकर जागरूक कर रहा है। स्कूलों साइबर जागरुकता को लेकर आनलाइन वेबिनार का आयोजन किया जा रहा है।

जमशेदपुर : साइबर पीस फाउंडेशन सीबीएसई तथा सीआइएससीई स्कूलों में साइबर पीस क्लब की स्थापना कर छात्रों को साइबर सुरक्षा को लेकर जागरुक कर रहा है। जागरुकता को लेकर आनलाइन वेबिनार का आयोजन किया जा रहा है।

सितंबर से लेकर दिसंबर तक झारखंड के 13 स्कूलों के 3500 छात्र इस तरह के वेबिनार से जुड़ चुके है। जमशेदपुर के स्कूलों में भी साइबर पीस क्लब की स्थापना प्रारंभ हो चुकी है। दयानंद पब्लिक स्कूल व गुलमोहर स्कूल में साइबर पीस क्लब की स्थापना कर दी है। इस क्लब की स्थापना करने वाले शहर के पहले स्कूल हैं। साइबर पीस क्लब, साइबर पीस फाउंडेशन द्वारा संचालित है। इसका उद्देश्य देश भर में छात्रों और फैकल्टी द्वारा संचालित टास्क फोर्स का निर्माण करना है, जो वर्चुअल स्पेस में बच्चों के कल्याण और विकास के लिए घूमती हुई खाई को पार कर सके। आनलाइन बच्चों की सुरक्षा और उन्हें उस ज्ञान के साथ सक्षम बनाना जो छात्र को खतरों और जोखिमों से निपटने में मदद करेगा।

फाउंडेशन के विनीत कुमार ने साइबरपीस क्लबों की भूमिका के बारे में बताया कि कैसे और भी आकर्षक गतिविधियां होंगी जो स्वाभाविक रूप से छात्रों को साइबर सुरक्षा के बारे में जागरूक करेंगी। उन्होंने कहा कि यह उचित समय है साइबर सुरक्षा को लेकर प्रत्येक स्कूलों में एक एंबेसडर होना चाहिए, ताकि वे साइबर सुरक्षा को लेकर अन्य छात्रों को जागरुक कर सकें। व्हाट्सएप का प्रतिनिधित्व करने वाले रचित रंजन ने शिक्षकों की सराहना की कि कैसे उन्होंने स्थिति के अनुकूल किया है और अपने छात्र तक शिक्षा को पहुंचाने की पूरी कोशिश की है। यह एक ऐसी दुनिया है जो छात्रों को प्रभावित करने वाली है। इस प्रकार, सोशल मीडिया के लाभों और नुकसान को समझने के लिए खुद को लैस करना महत्वपूर्ण हो जाता है।

दयानंद पब्लिक स्कूल के साइबर पीस क्लब ने मानसिक और भावनात्मक स्वास्थ्य समस्याओं को बढ़ाने के लिए सोशल मीडिया जिम्मेदार है विषय पर एक ऑनलाइन इंट्रा स्कूल बहस का आयोजन किया। दयानंद पब्लिक स्कूल के छात्रों ने प्रस्ताव के खिलाफ और इस तर्क के खिलाफ कहा कि कैसे संतुलित सोशल मीडिया जीवन स्वास्थ्य को प्रभावित नहीं करेगा जबकि अत्यधिक उपयोग गंभीर मनोवैज्ञानिक मुद्दों की ओर ले जाता है।

घंटे भर के वेबिनार में दयानंद पब्लिक स्कूल की प्रिंसिपल स्वर्ण मिश्राविद्यालय प्रबंध समिति के सदस्य राजीव तलवारव्हाट्सएप से साइबरपीस फाउंडेशन के संस्थापक और अध्यक्ष विनीत कुमार और रचित रंजन। प्रिंसिपल स्वर्ण मिश्रा ने कहा कि यह एक अच्छी पहल हैजो समय की जरूरत है। हम भविष्य में और भी कई गतिविधियां आयोजित करने की उम्मीद करते हैं। गुलमोहर हाई स्कूल ने साइबर पीस क्लब ने शिक्षकों ने छात्रों के साथ क्लब की भविष्य की योजनाओं पर भी चर्चा की। स्कूल ने साइबरपीस क्लब के एक भाग के रूप में आगामी महीनों में नारा लेखन की योजना बनाई है।

Source:- https://www.jagran.com/jharkhand/jamshedpur-cyber-peace-foundation-is-making-students-of-jharkhand-aware-of-cyber-security-21199879.html

Leave your comments

7 + twenty =